MUMBAI: महाराष्ट्र में तूफान निसर्ग ने मचाई तबाही, 2 लोगों की मौत ꠰

चक्रवात निसर्ग से महाराष्ट्र के तटीय इलाकों में टकराने के बाद बुधवार की दोपहर तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हुई। ऐसा माना जा रहा हैं कि मुंबई में निसर्ग तूफान से जिस तरह के खतरे का अंदेशा था वह टल गया है। बारिश अभी भी हो रही है लेकिन हवा की रफ्तार मुंबई में कम हो गई है। ऐसा माना जा रहा हैं कि मुंबई में निसर्ग तूफान से जिस तरह के खतरे का अंदेशा था वह टल गया है । आशंका है , रातभर तेज बारिश हो सकती है। दिन में हवा की स्पीड 120 से 140 km/h की रफ्तार से चल रही थी।  महाराष्ट्र के तटीय इलाकों को बंद कर दिया गया।

रायगढ़ की जिला कलेक्टर निधि चौधरी ने कहा कि चक्रवात से रायगढ़ से 87 किलोमीटर दूर श्रीवर्धन का दिवे आगर क्षेत्र प्रभावित हुआ है। कलेक्टर ने कहा: -तेज हवाओं से श्रीवर्धन और अलीबाग में कई पेड़ और बिजली के खंभे गिर गए हैं, और 13,541 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा जा चुका है।



राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) ने बुधवार को महाराष्ट्र और गुजरात में 43 टीमों को तैनात किया और साथ ही समुद्र तट के करीब रहने वाले लगभग 1 लाख लोगों को बाहर निकाला

अमेरिका स्थित कोलंबिया विश्वविद्यालय के वायुमंडलीय विज्ञान के एडम सोएबेल ने ट्वीट किया कि मुंबई में 72 वर्षों में पहली बार एक चक्रवात इस महानगर में आएगा। उन्होंने कहा था कि आखिरी बार एक प्रचंड चक्रवात 1891 में महानगर में आया था ꠰

करियर के बारे में जानकारी - CareerAlert